SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART  KI KAHANI

SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART  KI KAHANI

SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART  KI KAHANI सुनाने जा रहा हूँ | इस ध्यान से पढ़े | कठनाईयाँ हर इंसान  की ज़िंदगी में आती है | लोग इसका कई प्रकार से उपयोग करते है | कुछ लोग मुसीबतों में फस  जाते है | तो कुछ लोग मुसीबतों का सामना कर के उनको पस्त कर देते है|  मुसीबतो के बिना जिंदगी की  कल्पना  भी नहीं कि जा  सकती  | यही प्रकृति का सच है  | जो हर आदमी को सच मानकर चलना चाहिए | आज में इसी बारे में आप को एक प्रेरणादायक कहानी बताऊंगा जो नेपोलियन बोनापार्ट से सम्बंधित है

स्वामी विवेकान्द मोटिवेशन स्टोरी 

SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART 

SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART हमेंशा मुश्किल कामों के लिए जाने जाते है|  एक बार SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART ने  आल्पस पर्वत को पार करने की थान ली | औरफिर  क्या था ,SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART बिना सोचे समझे  वहां से निकल गए|

SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART  KI KAHANI

SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART के सामने बहुत ही विशाल पहाड़ खड़ा था |  जिसे देखकर अच्छे अच्छे लोग कांप जाते हैं | जब वह रस्ते में जा रहे थे , तो बिच रस्ते में उन्हें एक बुढ़िया ने रोक लिया , और बोली क्यों मरना चाहते  हो | यहाँ जितने भी लोग गए है, वो  आज दिन तक सफल नहीं हुए है|   अगर आप जिंदा रहना चाहते हो तो वापस लौट जाओ |यह सुनकर SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART बिलकुल दुखी नहीं हुए क्यों की वे एक निडर  साहसी सम्राट थे |

और यह सुनकर  SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART और भी खुस गए , और खुसी के मारे उस बुढ़िया को बहुत सारे हिरे जवाहरात दे दिए , और बोले अगर में जिन्दा रहा तो  मेरी जय जय कार करना | आपने  मुझे और भी साहसी बना दिया , अब मुझे ये पर्वत की ऊंचाई  और भी कम लगने लगी है|  और इतना कह कर वे  वंहा से निकल गए , पर जाते जाते उस बुढ़िया ने उससे कहा ,  आज दिन तक मुझे आप जैसा साहसी सम्राट नहीं मिला |जो हमेशा जितना चाहता हे  ऐसा निडर  SAHASI SAMRAT NEPOLIAN BONAPART  कभी भी विफल नहीं होता |

सीख :- मित्रो आप पर कैसे भी मुसीबत आ जाये परकभी   भी हार  मत मानना |

सीख :- अंत में एक ही बात कहूंगा, हर रात के बाद दिन जरूर आता है और हर दिन के बाद रात |

दोस्तों ये पोस्ट आपको अच्छी लगे तो अपने दोस्तों वह सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करे | आगे भी में आपके लिए ऐसी ही  कहानिया लता रहू गा  इसलिए आप मेरे ब्लॉग को  सब्सक्राइब करें.

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *