टोपीवाला और बंदर की कहानी इन हिंदीस्टेप by स्टेप हिंदी में जानकारी

टोपीवाला और बंदर की कहानी इन हिंदीस्टेप by स्टेप हिंदी में जानकारी

दोस्तों आज में आपके लिये टोपीवाला और बंदर की कहानी लेकर आया हु| दोस्तों आपने पहेले तो ये कहानि  सुनी ही होगी आज में आपके लिया फिर से टोपीवाला और बंदर की कहानी लेकर आया हु | दोस्तों आप बड़े विस्तार से इस कहानि को पढ़े|बहुत  समय पहेले की बात है| किसी गाँव में एक आदमी रहता था| वह टोपी बेचकर अपना  गुजारा करता था|वह रोज अपनी टोकरी में रंग-बिरंगी टोपिया लेजाकर  सुबह-सुबह  एक गाँव से दुसरे गाँव टोपिया बेचने जाता था|

शेर और चूहे की कहानि 

टोपीवाला और बंदर की कहानी इन हिंदीस्टेप by स्टेप हिंदी में जानकारी

एक दिन वो अपनी टोपिया बेचने एक गाँव से दुसरे गाँव जा रहा था| उसने रास्ते में एक बरगद का पैड देखा|वह बहुत थका हुआ था| इसलिये आराम करने के लिये वह पैड के नीचे बेठ गया|उसे थोड़ी देर बाद निंद आ गई उसने अपनी टोकरी अपने बाजु में रख ली|उस पैड बहुत सारे बन्दर रहते थे|

मगरमच्छ और बन्दर की कहानि |

उन्होने टोपीवाला की टोकरी देखी और वह पैड से नीचे उतर आये|उन्होने उस टोकरी में से एक-एक टोपी निकाल कर अपने सिर पर पहन ली|वह टोपिया पहन कर उछल-कूद मचाने लगे|आवाज सुनकर टोपीवाला जाग गया| उसने देखा की कुछ बंदरो ने उसकी टोपिया पहन रखी है|

टोपीवाला और बंदर की कहानी इन हिंदीस्टेप by स्टेप हिंदी में जानकारी

और देखा की  उसकी टोकरी खाली है| वह चिंता में पड़ गया| चिंतित होकर उसने  अपना सिर खुजाना सुरु कर दिया| तो उसने देखा की बन्दर भी अपना सिर खुजाने लगे| यह देखकर उसने अपना सर पिटना चालू कर  दिया| बन्दर भी अपना सर पिटने लगे| यह देखकर टोपीवाला को समझ आ गया की यह क्या हो रहा है|बन्दर एक नकलची प्राणी होता है|इसलिये वह टोपीवाला की नक़ल उतार ने लगे|

कछुवा और खरगोश की कहानि

बंदर  और टोपीवाला की कहानी हिंदी में स्टेप by स्टेप

टोपीवाला को एक सुजाव सुजा उसने अपनी तोपी निकल कर टोकरी में फेक दी| तो बन्दर ने भी अपनी टोपी निकल कर टोकरी में फेक दी|टोपीवाला अपनी टोकरी को जल्दी से उठाकर वहा से चल दिया| 

शिक्षा = समझदारी से किसी भी मुस्किल का समाधान हो सकता है|

MORAL = Any HARD WORK can be resolved wisely.

आशा करता हु दोस्तों यह कहानि आपको पसंद आई होगी तो आप अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर शेयर करे|आगे भी एसी कहानि पढ़ने के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करे|

धन्यवाद्

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *